“हसीना तुम तो” by हैरी रॉकस्टार

0
180

“हसीना तुम तो” हैरी रॉकस्टार की पहली कम्पोजीशन है जिसकी गीत लेखन , संगीत एवं गायन स्वयं हैरी जी के द्वारा किया गया है| कॉलेज के समय में कुछ स्टेज शोज किये जिनमें सराहना मिली| धीरे धीरे खुद के गीत लेखन की तरफ रुझान होने लगा, एवं खुद के संगीत बनाने का सिलसिला आरम्भ हो गया | भौतिकी विज्ञानं में स्नातक एवं दर्शन शास्त्र में परा-स्नातक हैरी जी वर्तमान में सरकारी सेवा में भी कार्यरत हैं| एवं साथ ही अच्छे संगीत बनाने के लिए प्रगतिशील हैं |

संपर्क सूत्र:

फ़ोन एवं व्हाट्सप्प : 7568963986
ईमेल: harishfrequent@gmail.com
यूट्यूब चैनल: HARRY ROXTAR

Loading...
SHARE
Previous articleख़ज़ाने निकल आए!
Next article बिखरते रिश्ते!
अचिन्त साहित्य (बेहतर से बेहतरीन की ओर बढ़ते कदम) यह वेबसाईट हिन्दी साहित्य--गद्य एवं पद्य ,छंदबद्ध एवं छंदमुक्त ,सभी प्रकार की साहित्यिक रचनाओं का रसास्वादन करवाने के साथ-साथ,प्रत्येक वर्ग --(बाल ,युवा एवं वृद्ध ) के पाठकों के हिन्दी ज्ञान को समृद्ध करने एवं उनकी साहित्यिक जिज्ञासा का शमन करने हेतु प्रयासरत है। हिन्दी भाषा,साहित्य एवं संस्कृति के विपुल एवं अक्षुण्ण भंडार में अपना साहित्यिक योगदान डालने,समाज एवं साहित्य के प्रति अपने दायित्व का निर्वाह करने हेतु यह वेबसाईट प्रतिबद्ध है। साहित्य,समाज और शिक्षा पर केन्द्रित इस वेबसाईट का लक्ष्य निस्वार्थ हिन्दी साहित्य सेवा है। डॉ.पूर्णिमा राय, शिक्षिका एवं लेखिका, अमृतसर(पंजाब)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here