मानसिकता (लघुकथा)

मानसिकता (लघुकथा) बंदरों का एक झुंड जंगल से निकलकर उछल कूद मचाता सड़क के करीब आ गया।इतने में ही दूर से तेज रफ्तार से आती...

उऋण नहीं( लघुकथा)

उऋण नहीं ( कमलेश भारतीय) मुझे नहीं पता था कि अचानक इतनी तेज बारिश आने वाली है । नहीं तो मैं कल के लिए काम...

तंत्र और आदमी (कमलेश भारतीय )

तंत्र और आदमी (कमलेश भारतीय ) सिनेमा हॉल में सुपरहिट फिल्म रिलीज हुई थी । शहर में शोर था कि टिकट ब्लैक में भी मुश्किल...

दादी का प्रेम !!

दादी का प्रेम  शांतिधाम में दादी की चिता को मुखाग्नि देते हुए रमेश के आंसू थमने का नाम नही ले रहे थे । उसके पिता...

दंगा-फसाद !!

दंगे का प्लान सोनू ,मुकेश ,मनोज सब रात में एक चौराहे पर मोटरसाइकिल खडी़ कर इकट्ठे हुए। सलीम ,आबिद ,सलमान के मोटरसाइकिल आते ही मनोज सलीम...

हरिया( लघुकथा)

हरिया( लघुकथा) ' आज से पिछले चार महीने वाला वह दिन हरिया को बहुत याद आया, बिना खायें पीये जब शाम तक बैलों को भी बिना...

विडम्बना (लघुकथा)

"विडम्बना " "क्यों रे कल्लू !तेरी माँ आज काम पे क्यों नहीँ आई ?" "कल शाम से बुखार में तप रही है बाबूजी !अगर आप दवाई...

वो तो सपना था (लघुकथा)

वो तो सपना था (लघुकथा) यूं अचानक शशि को देखकरसकपका गयी, रिया! और डायरी को तकिये के नीचे छुपाने लगी । उसे यूं करता देख...

एक लोटा !!

एक लोटा पानी ________________________ "मुन्ना एक लोटा पानी देना," कहकर मुन्ना की दादी अपनी बिछावन से उठने लगी, "माँ जी जा कर खुद लाइये, मुन्ना को...

पहचान (देवेन्द्र सोनी)

लघुकथा - पहचान सम्पन्न और शिक्षित परिवार में जब रमेश के यहां पहली पुत्री का जन्म हुआ तो पूरे कटुम्ब में ख़ुशी की लहर दौड़...

LATEST

MUST READ

error: Content is protected !!