कविताएं

दे दो आज गुलाब भेंट में

दे दो आज..गुलाब भेंट में (गुलाब-दिवस पे विशेष) किसको आज गुलाब भेट दूं.. बिखरी खुशियों को समेट लूं... उन्हें दूं..नाराज जो मुझसे.. दूर बहुत हैं आज जो मुझसे.. उन्हें...

गज़ल

कैसे (गज़ल)

कैसे (गज़ल ) -------------------------------------- दिल में आस जगायें कैसे। प्रेम की ज्योत जलायें कैसे। -------------------------------- कीचड़ भरा है मँझधारो में। हम नैया पार लगायें कैसे। --------------------------------- नीयत खराब यहाँ पे सबकी। मंदिर-मस्जिद हम...

याद में दिल खो गया (संगीता पाठक)

गज़ल याद में दिल खो गया बेकार में। हाल कुछ ऐसा हुआ है प्यार में। हार में भी बस लगे है जीत सी, जीत का कैसा मज़ा दिल...

हाइकु

लघुकथा

एक लोटा !!

एक लोटा पानी ________________________ "मुन्ना एक लोटा पानी देना," कहकर मुन्ना की दादी अपनी बिछावन से उठने लगी, "माँ जी जा कर खुद लाइये, मुन्ना को...

दोहे

प्रकाशित पुस्तकें

ओस की बूँदें (काव्य संग्रह) का लोकार्पण समारोह (झलकियाँ)

1*ओस की बूँदें ( डॉ.पूर्णिमा राय) काव्य संग्रह 2*"सुरेन्द्र वर्मा का साहित्य "आलोचना ग्रंथ by Dr purnima Rai

घनाक्षरी

आलेख

छंद ज्ञान

error: Content is protected !!