कविताएं

रेल हादसे की चपेट से अमृतसर डूबा शोक में !!by...

खुशी का अवसर सुनहरा याद रहेगा यह दशहरा!! मस्त मलंग लोग निमग्न आतिशबाजी चूमे गगन!! निकले घर से वापिस आने को सामने खड़ी मौत गले लगाने को !! रेल हादसे...

गज़ल

सीख

सीख थोड़ी दुनियादारी सीख अपनी जिम्मेदारी सीख अहं छोड़ कर "मै" का अपने "हम" में हिस्सेदारी सीख मन मर्यादा मानवता की बातें तू संस्कारी सीख मित्र तेरे हो साथ मगर दुश्मन से...

ज़बान का जो खरा नहीं है(धर्मेंद्र अरोड़ा मुसाफिर)

गज़ल--- ज़बान का जो खरा नहीं है! यकीन उसपे ज़रा नहीं है!! लगे असंभव उसे हराना! वो आंधियों से डरा नहीं है!! समझ सके ना किसी की' पीड़ा! के' ज़ख्म...

हाइकु

लघुकथा

गुनाहगार _ लघुकथा (कमलेश भारतीय )

गुनाहगार कमलेश भारतीय रात देर से आए थे , इसलिए सुबह नींद भी देर से खुली । तभी ध्यान आया कि कामवाली नहीं आई...

दोहे

प्रकाशित पुस्तकें

ओस की बूँदें (काव्य संग्रह) का लोकार्पण समारोह (झलकियाँ)

1*ओस की बूँदें ( डॉ.पूर्णिमा राय) काव्य संग्रह 2*"सुरेन्द्र वर्मा का साहित्य "आलोचना ग्रंथ by Dr purnima Rai

घनाक्षरी

आलेख

छंद ज्ञान

error: Content is protected !!